Weight Loss वजन कम करना है तो खाने पर नहीं कैलोरी पर लगायें लगाम

वजन कम Weight Loss करने की तमन्‍ना है तो जरूरी नहीं कि आप डायटिंग करें, भरपूर और पेट भर खाना खाकर भी आप अपने वजन को नियंत्रित कर सकते हैं। वजन कम करने के लिए पूरी तरह से कैलोरी सीमित करने तथा भोजन छोड़ने की सलाह देने वाले डाइट चार्ट आपके वजन को कम करने में बिल्कुल सहायक नहीं होते।

ऐसा माना जाता है कि बार-बार खाने से अच्छा है कि दिन में सिर्फ तीन बार और ज्यादा खाना खाया जाए। लेकिन इस प्रकार से खाने पर आपको ज्यादा भूख लगती है और इसे के चलते आप ज्यादा कैलोरी ग्रहण कर लेते हैं, जिससे शरीर में वसा की मात्रा बढ़ती है। इससे अच्‍छा है दिन में 3 बार ज्यादा खाने की बजाय थोड़े-थोड़े अंतराल पर हल्‍का भोजन करें। आइए हम आपको बताते हैं कि भरपूर खाने से कैसे वजन कम होता है।

कम मात्रा में खाएं

एक बार में ज्‍यादा खाने की बजाय कई बार और कम मात्रा में खाएं और भूखे न रहें। जब भी भूख लगे हल्‍का और पौष्टिक स्‍नैक्‍स खायें। लेकिन ध्यान रहे थोड़ा सा ही खाएं, ज्यादा खाने से बचें। कई बार और कम मात्रा में खाने से आपका शरीर को दिन भर में अधिक संतुष्ट और ऊर्जावान रहते हैं।

सुबह का नाश्‍ता जरूरी

सुबह नाश्‍ता जरूरी है, इससे आपका शरीर दिनभर ऊर्जावान रहता है साथ ही आपको भूख भी कम लगती है। ऐसा नाश्‍ता करें जिसमें फैट कम और प्रोटीन व फाइबर अधिक हों। अधिक कैलोरी वाली चीजों के अलावा हाई ग्लाइसिमिक इंडेक्स यानी वह भोजन जो शरीर में जाकर जल्दी ग्लूकोज में बदल जाते हैं, नहीं खाना चाहिए। खाना जितना जल्दी शुगर में बदलता है, शरीर में उतनी ही अधिक चर्बी बनेगी। इसलिए लो ग्लाइसिमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थ खाना चाहिए। नाश्‍ते में प्रोटीन और अन्य महत्वपूर्ण विटामिन लेना न भूलें।

व्‍यायाम भी जरूरी

फिट रहने के लिए नियमित व्‍यायाम बहुत जरूरी है। हर दिन कम से कम 30 मिनट व्यायाम जरूर करें। व्यायाम करने से आपका मेटॉबॉलिज्‍म सुचारु होगा। इससे कारण आपको अधिक कैलोरी नष्ट करने में मदद मिलेगी। व्यायाम शरीर के लिए तो लाभदायक होता ही है साथ ही ये शरीर पर मौजूद अतिरिक्त चर्बी को भी समाप्‍त करता है।

कैसा हो खाना

खाना ऐसा खाएं, जिसमें फैट कम हो और प्रोटीन व फाइबर ज्यादा हो। एक ग्राम कार्बोहाइड्रेट में चार कैलोरी होती हैं, जबकि एक ग्राम फैट नौ कैलोरी। साथ ही हाई फाइबर डाइट पचने में अधिक समय लेती है। इससे शरीर को धीरे-धीरे ग्लूकोज मिलता है और देर तक पेट भरा हुआ लगता है। ज्यादा प्रोटीनयुक्‍त आहार खाने से बचें। हाई ग्लाइसिमिक इंडेक्स वाला भोजन नहीं करना चाहिए।

डिनर करें जल्‍दी

रात का खाना सोने से दो घंटे पहले करना चाहिए। इससे खाना अच्‍छे से पच जाता है। रात का खाना ज्‍यादा भारी न हो। हो सके तो रात का खाना सोने से 2 घंटा पहले करें। रात में खाने के बाद सीधे बेड पर न जायें, थोड़ा टहलें।

Share:

Leave a Comment

Your email address will not be published.

TOP

Open chat